अपनी कार की सेहत का ख्याल रखे इस तरह



अगर आप अपनी कार से बेहद प्यार करते हैं और उसे चुस्त दुरुस्त रखना चाहते हैं. तो बस इन छोटी-छोटी बातों का ख्याल रखें, जो आपकी कार को पूरी तरह फिट रखेगी. आइए जानें क्या है वो खास टिप्स....

कार का दिल इंजन


कार की पूरी परफॉर्मेंस इंजन पर निर्भर करती है। इंजन को ठीक चलाने में सहायता करता है उसका मोबिल ऑइल इसलिए कार के ऑइल को हर 15-20 दिन के अंतराल में चैक करते रहें. ध्यान दें कि कहीं कार का ऑइल लीक न कर रहा हो. अगर ऑइल लीक कर रहा हो तो तुरंत मकैनिक से चैक कराएं, नहीं तो ये खतरनाक साबित हो सकता है.


टायर में जरूरी प्रेशर

कार को बाहर निकलने से पूर्व टायर में हवा के प्रेशर को जांच लेना बेहद जरूरी है. टायर में हवा का कम दाब, कार के इंजन पर जोर डालता है. इससे सीधे तौर पर कार का माइलेज प्रभावित होता है. इसके अलावा टायरों में कम हवा, टायरों को भी नुकसान पहुंचाती है. इससे वे जल्दी घिसते हैं और इनकी लाइफ कम होती है.


ब्रेक काम करे सही तरीके से

अगर आपकी कार के ब्रेक काफी नीचे आकर लगते हैं तो तुरंत उसको मकैनिक को दिखाएं. साथ ही अगर आपकी कार के ब्रेक लगते समय आवाज करते हैं तो इनकी क्लियरेंस में दिक्कत है. ये लापरवाही आपके लिए घातक साबित हो सकती है. समय-समय पर ब्रेक्स की जांच भी करवाते रहें.


कूलिंग सिस्टम साथ ही प्रभाव

इंजन का गर्म हो जाना एक आम बात है. लेकिन अपनी सतर्कता की बदौलत आप खुद को इस परेशानी से दो चार होने से बचा सकते हैं. इसके लिए आप अपनी कार के रेडिएटर में कूलेंट की मात्रा को जांचते रहे. हर 2-3 दिन में कार में वाटर कूलेंट की जांच करते रहें.

क्लच का ज्यादा इस्तेमाल हो सकता है घातक

अगर आपको बिना इस्तेमाल के दौरान क्लच को दबाने की आदत है तो ये क्लच को डैमेज कर सकती है. इसके साथ ही क्लच में जरा भी समस्या लगने पर उसकी जांच कराएं.

0 comments:

Post a Comment

Don't miss new products

Subscribe here to get our newsletter in your inbox, it is safe and EASY!